yoga against corruption

Just another weblog

20 Posts

11 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 5624 postid : 22

देशवासियों को एक चेतावनी

  • SocialTwist Tell-a-Friend

मैं देशवासियों को एक चेतावनी देना चाहता हु या ये समझे की भविष्यवाणी करना चाहता हु की अब वो होने वाला है जो किसी ने नही सोचा है.

ये चेतावनी देशवासियों के साथ साथ हमारे देश के उन शक्तिशाली देशभक्तों को भी दे रहा हु जो समय रहते कुछ कर सकते है तो अपने देश के लिए कुछ करे

मैं कुछ कर पाने में स्वयं को असमर्थ महसूस कर रहा था इसलिए इस तरह से ये करना उचित लगा आप लोगो से विनर्म निवेदन है की इसे मजाक या एक सनकी की सोच समझ कर टाल मत देना

अब वह बात जो मैं चेतावनी या भविष्यवाणी के रूप में कहना चाहता हु वो ये है की सोनिया मैएनो राहुल घांदी प्रियंका वढेरा चिदम्बरम और कई देश के नेता विलुप्त होने वाले है या देश छोड़ कर भागने वाले है. क्यूंकि इनके पास इतना पैसा है की किसी भी देश की नागरिकता लेकर उस देश की आर्थिक वाव्यस्था को सुधार सकते है या ये कहे की अपने पडोसी देश को तो खरीद तक सकते है

ये मात्र एक कोरी नेताओं की तरह बकवास नहीं है ये मेरा विश्वास है और इनमे कांग्रेस के प्रणव दा, मनमोन सिंह और कुछ लोग यही रह जायेंगे और ये तब कहेंगे की अरे हमें तो इसकी उम्मीद ही नहीं थी

और ये सब कोई मुझे सपने में दिखाई नही दिया है. ये सब सरकार के रवैये से दिखाई दे रहा है सोनिया ने अपने कुछ लोगो को इस साजिश में लगा रखा है की तुम अन्ना बाबा और इस देश की वेबकूफ जनता का ध्यान इधर उधर लगाये रहो और मै अपना और तुम लोगों की व्यवस्था कही विदेश में कर लूंगी

जब देश में बाबा के आन्दोलन को कुचल कर दबाया गया उसके बाद न ही कांग्रेस का ४२ साल का युवा (बुड्ढा) राजकुमार सामने आया न ही इटली मैडम सामने आई क्यूंकि वो तो स्विस बैंक में खाता सँभालने गयी थी और अगर खाता सँभालने नही गयी थी तो बताएं की वो कहाँ गयी थी.

एक और सयोंग देखिये की उनके वापस आते स्विस बैंक ने भी अपना बिना पूछे ही राय दे दी की हम पहले का नही लेकिन २०११ से खातों की जानकारी दे देंगे कोई इस बात का जबाव देगा की ये क्यूँ हो रहा है और कैसे हो रहा है खैर पता नही मेरी इस राय पर कोई ध्यान देगा या नही मै अपने आपको आज बहुत ही मजबूर महसूस कर रहा हु की सब कुछ जानते हुए भी मै कुछ नही कर पा रहा हु.

चलो ठीक है की मैं गलत हु मैं सिर्फ कोरी बकवास कर रहा हु लेकिन सिर्फ इसे एक कल्पना मान कर इससे बचने के तो उपाय किये ही जा सकते है की अगर ऐसा हो गया तो क्या कर पाएंगे

इससे बचने के लिए मै कुछ सुझाव देना चाहता हु अगर संभव हो सके तो देश के शक्तिशाली लोग जैसे मुख्य न्यायाधीश या कोई और उचित संस्था इन नेताओं के पासपोर्ट जप्त करे और अगर देश हित में किसी नेता को विदेश यात्रा करनी है तो अर्जी देकर कारण बताकर बहार जा सके. नहीं तो देश लुट तो चूका ही है अब बिकने में भी ज्यादा समय नही लगेगा

मैं नही कहता हु की सोनिया दिग्विजय या देश कई लोगो का पैसा स्विस बैंक में जमा है अगर कला धन नही जमा है तो सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी उन लोगो की सूचि जारी क्यूँ नही की जा रही है.

अन्ना और बाबा ने जो कदम उठाया है वो बहुत देर से उठाया है क्यूंकि अब ये लाइलाज बीमारी बन चूका है क्यूंकि अब अगर वो सूचि जारी करेंगे तो उसमे सिर्फ वो ही फसेंगे जिनसे हम सूचि मांग रहे है और अगर अन्ना का लोकपाल आ जाता है तो सबसे पहले तलवार उनके गले पर ही लटकेगी इसलिए कोई भी अपना गला खुद फांसी के फंदे में नही डालता है.

इसलिए मै सिर्फ इतना चाहता हु की अगर ये नेता साफ़ है तो मेरी ये चुनोती स्वीकार करे और अपने अपने पासपोर्ट खुद किसी संस्था के पास जमा कराएँ. लेकिन अफ़सोस इस बात का है की ऐसा कुछ भी होने वाला नही है

देश के नेता कहते है की अब देश की जनता और युवा जाग चूका है मै कहता हु की देश की अभी भी ७० % आबादी यही नही जानती है की बाबा रामदेव जी अन्ना जी और इस देश की भ्रष्ट सरकार क्या चाहती है ये एक वास्तविकता है

मै समझता हु की मै जो कहना चाहता था वो आप लोग समझ गए होंगे मै तो कुछ कर नही पा रहा हु अगर आप में से कोई कुछ कर सकता है तो करे नही तो कमसे कम मुझे ही बताएं की हम क्या कर सकते है मुझे ये सब लिखते हुए बड़ी शर्म आ रही है की हम अपने आप को आजाद भारत का वासी कहते है और हम अपने ही देश में अपने ही घर के भेदियों का कुछ नही कर पा रहे है.

और ये भ्रष्टचारी अपने आपको बापू को अपना अनुयायी बताते है तो इन्हें मै बताना चाहता हु की बापू ने ही कहा था की इमानदार वही होता है जिसे बेईमानी करने का मौका नही मिलता है

समझदार के लिए इशारा काफी होता है बेशर्मो को जरा भी शर्म बाकी है तो अभी भी देश से माफ़ी मांग लो हिन्दुस्तानियों का दिल बहुत बड़ा होता है हम हिन्दुस्तानी तुम्हे माफ़ कर देंगे और तुम जहाँ हो वही रहोगे कम से कम अपनी गलती तो मान लो

ये पापी क्या कर सकते है इसका किसी को अंदाजा भी नही है अब ये बाबा रामदेव जी की संपत्ति की जाँच करवा कर या किसी भी गलत आरोप लगा कर या कोई दुर्घटना दिखा कर बाबा रामदेव जी और अन्ना जी के साथ क्या और कब हो जाये कुछ पता नही है और ऐसा इस देश में कई बार हो चूका है जैसे न. 1 संजय s /o फ़िरोज़ खांन. न. 2 फ़िरोज़ खां S /o नवाव खां और न. 3 नाम तो मुझे मालूम नही है शायद भाजपा के एक नेता थे जिनकी रेल में हत्या हो गयी थी. या एक दुर्घटना थी पता नही

ये तो इनका इतिहास है वर्तमान हम देख ही रहे है भविष्य क्या होगा ये मैंने कुछ स्पष्ट करने की कोशिश की है पता नही मेरी ये कोशिश रंग लायेंगी या नही या बाबा रामदेव जी और अन्ना जी को ही शायद लाल रंग में न रंग दे अब इनका कोई भरोसा नही है और मै इसे अपना आखिरी कोशिश मान के कर रहा हु और अगर आगे मेरा कोई नाम पता न मिले तो इसमें किसी को कोई ताज्जुब नही होना चाहिए

इस सब की वजह सरकार का उदासीनतापूर्ण रवैया है अगर ये सब कोई मनगढ़ंत कहानी नही है आम जनता का सरकार से उठता हुआ विश्वाश है अगर सरकार को इससे कोई मानहानि हुयी हो तो उसके लिए कुछ सक्रिय कदम उठाओ और अगर कही व्यवस्था हो गयी हो तो भाग जाओ

जिस किसी को मुझे समझाना हो की ये सिर्फ तुम्हारी कल्पना है वो मुझे मेरी mail id uday.pal12@gmail.com पर अपना विचार भेज सकता है

भारत माता की जय

बाबा रामदेव की जय

अन्ना हजारे जिंदाबाद

| NEXT



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (5 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

arjun singh azad के द्वारा
June 26, 2011

udaypal ji aapke dil ke dard ko mein samajhta hun,,,,,, ye ladai baba ki ya anna ki nahin hai…..ye ladai dusri azadi ki hai……jise haasil karna itna aasan nahin……..hume or intzaar karna hoga…..haan tab tak hum apne hisse ka kaam karte rahe jai hind


topic of the week



latest from jagran